Rajasthan Update
Rajasthan Update - पढ़ें भारत और दुनिया के ताजा हिंदी समाचार, बॉलीवुड, मनोरंजन और खेल जगत के रोचक समाचार. ब्रेकिंग न्यूज़, वीडियो, ऑडियो और फ़ीचर ताज़ा ख़बरें. Read latest News in Hindi.

दोषी कौन सरकार या सिस्टम

जमुई जिला सिकंदरा प्रखंड अंतर्गत महादेव सिमरिया अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में सारा व्यवस्था होने के बावजूद व्यवस्थापक की लापरवाही शौचालय मुंह फाड़कर दर्शा रही है

जो तस्वीर में दिखाई दे रहा है।

अतिरिक्त प्राथमिक केंद्र के डॉ रविंद्र कुमार जी एवं सभी स्वास्थ्य कर्मी के कथन अनुसार इसकी जानकारी सिकंदरा स्वास्थ्य प्रभारी को एवं जिला उच्च पदाधिकारी को भी दिया गया लेकिन आज तक कोई भी पदाधिकारी इस समस्या का समाधान नहीं की ।जबकि अस्पताल में दो शौचालय और दो बाथरूम उपलब्ध है लेकिन इसका रखरखाव बिल्कुल नग्न है यहां बिजली की भी सुविधा नहीं है, बिजली की सुविधा के लिए डीसी जनरेटर की भी व्यवस्था है जोकि हर रोज मात्र घंटा या दो घंटा ही चलाया जाता है

और उस डी जी के नाम पर सरकार के द्वारा सालाना लगभग ₹200000 का वाउचर बना कर लिया जाता है जिसका उपयोग ना के बराबर ही होता है, क्योंकि आउटसोर्सिंग के द्वारा सिर्फ खानापूर्ति किया जाता है।

महादेव सिमरिया हॉस्पिटल से लगभग 40 गांव लाभान्वित है लेकिन यहां सुविधा नहीं होने के कारण लोग सिकंदरा या जमुई जाने पर मजबूर है जबकि यहां पर सब की सारी व्यवस्था सरकार के द्वारा दिया गया है, लेकिन सुविधा नदारद है इसमें दोष किसका है सरकार का या सिस्टम का।अभी हाल ही में कुछ दिन पहले स्वास्थ्य मंत्री श्री मंगल पांडे जी जा रहे थे उनका स्वागत समारोह महादेव सिमरिया में किया गया और उसी दौरान ग्रामीणों के द्वारा आवेदन देकर इसकी जानकारी दी गई प्राथमिक केंद्र के बारे में और साथ ही अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की मान्यता देने पर भी आवेदन के द्वारा मंत्री जी को दिया गया लेकिन आज तक कोई कार्यवाही नहीं हुई।

आज सुबह लगभग 10:00 बजे प्रीति देवी नाम की महिला जिसका घर जोरवाडीह है वह मुरारी मंडल की पत्नी है प्रीति देवी अपने मायके कोनन जा रही थी जो कि मंजोस पंचायत में पड़ता है अचानक उस महिला को दर्द हुआ और महादेव सिमरियाबाजार में ही उसका प्रसव हो गया फिर एक आशा के द्वारा उसे महादेव सिमरिया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया तो यहां डॉक्टर और एनएमके द्वारा बच्चे का नाभि काटकर उसका इलाज किया गया जिससे कि जच्चा और बच्चा दोनों सुरक्षित है।

हमारा सवाल सरकार से और सिस्टम है कि अगर सारी व्यवस्था होते हुए भी आखिर इतनी लापरवाही क्यों बरती जाती है जिससे कि सरकारी रुपए का दुरुपयोग होता है अगर इसका सही उपयोग नहीं हो रहा है तो उसका घाटा किसे हो रहा है सरकार सरकार का या पब्लिक का ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.