Rajasthan Update
Rajasthan Update - पढ़ें भारत और दुनिया के ताजा हिंदी समाचार, बॉलीवुड, मनोरंजन और खेल जगत के रोचक समाचार. ब्रेकिंग न्यूज़, वीडियो, ऑडियो और फ़ीचर ताज़ा ख़बरें. Read latest News in Hindi.

- Advertisement -

- Advertisement -

स्कूल क्रांति संघ, झुंझुनूं ने  2 अगस्त से स्कूल खोलने के  सरकार के  निर्णय का किया स्वागत

शिक्षा से जुड़े हर वर्ग को मिलेगी अब राहत, जताया मुख्यमंत्री का आभार

- Advertisement -

झुंझुनूं 23 जुलाई 2021 (नि.सं. मनोज) | 22 जुलाई को माननीय मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में आयोजित कैबिनेट की बैठक में शिक्षण संस्थाओं को शिक्षण कार्य के लिए खोलने के निर्णय का स्कूल क्रांति संघ, झुंझुनूं ने स्वागत किया है। जानकारी के अनुसार 23 जुलाई को स्कूल क्रांति संघ, झुंझुनूं के पदाधिकारियों की एक वर्चुअल मीटिंग का आयोजन किया गया जिसमें कार्यकारी अध्यक्ष डॉ दिलीप मोदी, अध्यक्ष उमेश कस्वां, सचिव नरेन्द्र झाझडिय़ा, पीयुष ढुकिया, रिशाल सिंह पायल, प्रवीण कृष्णियां इत्यादि ने भाग लिया तथा 2 अगस्त से सभी शिक्षण संस्थाओं को शिक्षण कार्य के लिए खोलने का माननीय मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्णय का हार्दिक स्वागत किया तथा आभार व्यक्त किया।

- Advertisement -

जानकारी देते हुए स्कूल क्रांति संघ, झुंझुनूं के कार्यकारी अध्यक्ष डॉ दिलीप मोदी ने बताया कि लगभग दो वर्षों से बन्द पड़़े शिक्षण संस्थानों से जुड़े प्रत्येक वर्ग के लिए यह एक राहत भरी खबर है। उन्होंने कहा कि राजस्थान सरकार के इस फैसले से सबसे अधिक लाभ उन विद्यार्थियों को होगा जो इंटरनेट युक्त संसाधनों के अभाव में लगभग दो वर्षों से ऑनलाईन शिक्षा भी नहीं ले पा रहे थे, अब ऑफलाईन शिक्षण कार्य प्रारंभ हो जाने से वे अभावग्रस्त विद्यार्थी अपने अध्ययन को पून: शुरू कर सकेंगे। इसके साथ ही निजी विद्यालयों में पढ़ाने वाले शिक्षक-शिक्षिकाओं के लिए भी यह एक सुखद खबर है जो स्कूल बन्द होने की वजह से भयंकर आर्थिक समस्याओं का सामना कर रहे थे, उनके लिए भी सरकार का यह निर्णय संजीवनी बुटी का कार्य करेगा। डॉ मोदी ने कहा कि दो वर्षों में कोविड-19 के कारण शिक्षा से जुड़ी हर गतिविधी बन्द पड़ी थी जिसकी वजह से स्कूल संचालक, होस्टल संचालक, बस संचालक/चालक, स्टेशनरी विक्रेता, पुस्तक विक्रेता, स्कूल गणवेश विके्रता सहित स्कूलों एवं होस्टल्स से जुड़े विभिन्न वर्गों को भारी आर्थिक नुकसान हो रहा था, सरकार द्वारा लिया गया यह फैसला सभी वर्गों के लिए राहत लेकर आया है। साथ ही साथ उन अभिभावकों ने भी इस फैसले का स्वागत किया है जो वर्किंग पेरेन्ट्स है और स्कूल नहीं खुलने की वजह से अपने बच्चों की पढ़ाई पर समूचित ध्यान नहीं दे पा रहे थे।

वर्चुअल मीटिंग में डॉ मोदी ने कहा कि अब सरकार द्वारा एस ओ पी जारी होने का इन्तजार है तथा उन्होंने सभी स्कूल संचालकों एवं पदाधिकारियों से आग्रह किया कि सरकार द्वारा जारी एस ओ पी के आधार पर कोरोना गाईडलाईन्स की पूर्ण पालना करते हुए ही विद्यालयों का संचालन किया जाए। उन्होंने अभिभावकों से भी अपील की है कि प्रत्येक निजी स्कूल संचालक कोविड-19 से विद्यार्थियों की सुरक्षा हेतु पूर्णतया कटिबद्ध है तथा बच्चों की सुरक्षा के लिए हर आवश्यक उपाय लागु किए जाऐंगे। उन्होंने कहा कि अभिभावक निश्चिन्त होकर अपने बच्चों को विद्यालय में नियमित अध्ययन के लिए भेज सकते हैं क्यों कि सभी स्कूलों के लिए बच्चों की सुरक्षा व स्वास्थ्य सर्वोपरि है।

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.