Rajasthan Update
Rajasthan Update - पढ़ें भारत और दुनिया के ताजा हिंदी समाचार, बॉलीवुड, मनोरंजन और खेल जगत के रोचक समाचार. ब्रेकिंग न्यूज़, वीडियो, ऑडियो और फ़ीचर ताज़ा ख़बरें. Read latest News in Hindi.

- Advertisement -

- Advertisement -

भिक्षावृृत्ति मुक्त अभियान की समीक्षा बैठक

- Advertisement -

जयपुर 11 अगस्त 2021। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के निदेशक  ओ.पी. बुनकर की अध्यक्षता में बुधवार को अम्बेडकर भवन स्थित सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता निदेशालय के सभागार में जयपुर शहर को भिक्षावृृत्ति मुक्त बनाने हेतु चलाए जा रहे अभियान की समीक्षा बैठक आयोजित हुई।
विभाग के निदेशक एवं संयुक्त शासन सचिव  ओ.पी. बुनकर ने बताया कि मुख्यमंत्री की बजट घोषणा के अनुसार हमें शहर को भिक्षावृृत्ति मुक्त बनाने के लिए संकल्प के साथ कार्य करना है। उन्होंने विभिन्न स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा किये जा रहे प्रयासों की सराहना भी की तथा और अधिक त्वरित गति से कार्य करने की आवश्यकता बताई।
बैठक में अतिरिक्त निदेशक-सामाजिक सुरक्षा सुवालाल पहाड़िया ने अभियान के बारे में विस्तृृत जानकारी देते हुए बताया कि 18 वर्ष से कम आयु वाले, 18 से 55 वर्ष तक की आयु के महिला व पुरूष तथा 55 वर्ष से अधिक आयु के वृृद्ध एवं अशक्त तथा दिव्यांग लोगों के हिसाब से श्रेणीवार भिक्षावृृत्ति में लिप्त व्यक्तियों का चिन्हिकरण किया गया है। इसके लिए शहर में 25 पाइंट चिन्हित किये गए हैं जहां भिक्षावृृत्ति में लिप्त व्यक्ति मिलते हैं। स्वयं सेवी संस्थाओं के कार्यकर्ता ऎसे चिन्हित स्थानों पर भिक्षावृृत्ति में लिप्त व्यक्तियों का विवरण एक प्रारूप में दर्ज करें, उसके पश्चात उनकी समझाईश की जाकर उन्हें निराश्रित बाल गृृह, महिला सदन, वृृद्धाश्रम तथा आवश्यकतानुसार विकलांग पुनर्वास गृृहों में प्रवेश दिया जाएगा। इसके लिए पुलिस विभाग द्वारा भी अपेक्षित सहयोग किया जा रहा है।
उन्होंने बताया कि अभियान में 18 से 55 वर्ष तक की आयु के युवा वर्ग को लक्ष्य वर्ग के रूप में लिया जायेगा। जो भी युवा भिक्षावृत्ति में लिप्त हो तथा वह कोई कार्य करना चाहता हो अथवा वह किसी प्रकार का कौशल प्रशिक्षण प्राप्त करना चाहे उसे उसकी रूचि के अनुसार प्रशिक्षण दिलाया जाकर पुनर्वासित किया जाना इस अभियान का महत्वपूर्ण हिस्सा है।
बैठक में नरेन्द्र दायमा, एसीपी, पुलिस मुख्यालय,  अशोक बैरवा, उपनिदेशक, जयपुर-शहर, रमेश दहमीवाल, सहायक निदेशक, मुख्यावास एवं विभिन्न स्वयंसेवी संस्थाओं प्रतिनिधि उपस्थित थे।

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.