Rajasthan Update
Rajasthan Update - पढ़ें भारत और दुनिया के ताजा हिंदी समाचार, बॉलीवुड, मनोरंजन और खेल जगत के रोचक समाचार. ब्रेकिंग न्यूज़, वीडियो, ऑडियो और फ़ीचर ताज़ा ख़बरें. Read latest News in Hindi.

- Advertisement -

- Advertisement -

इंसान के सिर पर कैसे उग आया जानवरों जैसा सींग, जब डॉक्टर के पास पहुंचे तो…

- Advertisement -

बचपन मे आपने दादा-दादी से इंसान के सिर पर सींग उगने की कहानी कई बार सुनी होगी लेकिन क्या आपने किसी इंसान के सिर पर सींग उगे हुए देखा है? किस्से-कहानियों असल जिंदगी में देखने को मिली है. मध्यप्रदेश के सागर जिले के रहली गांव के रहने वाले 74 साल के श्याम लाल यादव के सिर पर बीते कई साल से एक सींग उगा था जिसे हाल ही में ऑपरेशन के ज़रिए काटा गया है. श्याम लाल यादव के मुताबिक कुछ साल पहले उनके सिर पर लगी चोट के बाद वहां से सींग निकलने लगा.

- Advertisement -

श्याम लाल यादव को शुरुआत में थोड़ा अटपटा जरूर लगा लेकिन बाद में इसकी आदत पड़ गई. श्यामलाल यादव के मुताबिक उन्होंने कई बार इस सींग को कटवाया लेकिन थोड़े दिन बाद सींग फिर उग आता था. इसके बाद परेशान होकर उन्होंने डॉक्टरों को दिखाना शुरू किया. कहीं डॉक्टर ने हाथ खड़े कर दिए तो कहीं इलाज महंगा बताया गया. आखिरकार श्यामलाल यादव पहुंचे सागर के भाग्योदय तीर्थ अस्पताल जहां डॉक्टरों की टीम ने इलाज कर श्यामलाल यादव के सिर से सींग को काटकर अलग कर दिया.

श्याम लाल यादव का ऑपरेशन करने वाले डॉक्टरों की टीम का नेतृत्व करने वाले डॉक्टर विशाल गजभिये ने बताया कि श्यामलाल यादव को दुर्लभ सेबासियस हार्न नाम की बीमारी है, जिसे आम बोलचाल की भाषा में डेविल्स हॉर्न भी कहा जाता है. डॉक्टर गजभिये के मुताबिक उन्होंने सबसे पहले श्यामलाल यादव के सिर का एक्सरे और सीटी स्कैन करवाया ताकि सींग सिर के कितने अंदर तक है इसका पता लग सके. एक्सरे से जब पता चला कि सींग की जड़ें ज्यादा गहरी नहीं है तो फिर उनका ऑपरेशन किया गया.

इस ऑपरेशन में कुछ घंटे लगे लेकिन श्याम लाल यादव को सिर पर उगे सींग से छुटकारा मिल गया. वहीं सिर पर उगे सींग को सफल ऑपेरशन कर अलग करने वाले डॉक्टर विशाल गजभिये ने कहा कि वे जल्द ही इस केस को इंटरनेशनल जर्नल ऑफ सर्जरी में पब्लिश करने के लिए भेजेंगे क्योंकि अब तक ऐसा केस उनके पास पहले कभी नहीं आया है.

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.