Rajasthan Update
Best News For rajasthan

राजस्थान के 16.36 लाख किसानों को हुआ सहकारी फसली ऋण का वितरण

जयपुर,08 जून। सहकारिता मंंत्री उदय लाल आंजना ने बताया कि राज्य के 16 लाख 36 हजार 396 ग्राम सेवा सहकारी समिति के सदस्य किसानों को 5287 करोड़ रूपए का सहकारी खरीफ फसली ऋण का वितरण किया जा चुका है। यह ब्याज मुक्त अल्पकालीन फसली ऋण वर्ष 2020-21 में 25 लाख किसानों को वितरण का लक्ष्य है।

आंजना ने बताया कि 16 अप्रेल से प्रारंभ हुए खरीफ सीजन के फसली ऋण में 31 अगस्त तक 10 हजार करोड़ रूपए किसानों को वितरित किए जाने का लक्ष्य है। जबकि रबी सीजन में 1 सितम्बर से 31 मार्च 2021 तक 6 हजार करोड़ रूपए का फसली ऋण वितरित किया जाएगा। उन्होेंने बताया कि वर्ष 2020-21 में 3 लाख के लक्ष्य के विरूद्ध 2 लाख 34 हजार 189 नए किसानों को भी फसली ऋण से जोड़ा जा चुका है, जिसमें से खरीफ सीजन में अब तक 86 हजार 558 किसानों को ऋण का वितरण हो चुका है।

प्रमुख शासन सचिव नरेशपाल गंगवार ने बताया कि 8 जून तक जयपुर जिले में 1 लाख 51 हजार 431 किसानों को 475 करोड़ रूपए, बाड़मेर जिले में 1 लाख 28 हजार 548 किसानों को 415 करोड़ रूपए, भीलवाड़ा जिले में 88 हजार 294 किसानों को 275 करोड़ रूपए, जोधपुर जिले में 69 हजार 632 किसानों को 268 करोड़ रूपए, श्रीगंगानगर जिले में 72 हजार 999 किसानों को 255 करोड़ रूपए तथा चित्तौड़गढ़ जिले में 78 हजार 040 किसानों को 251 करोड़ रूपए का फसली ऋण वितरित किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि इसी प्रकार अन्य जिलों में भी किसानों को फसली ऋण का वितरण किया गया है।

प्रबंध निदेशक, अपेक्स बैंक परशुराम मीणा ने बताया कि जयपुर, टोंक एवं बाड़मेर जिलों में निर्धारित लक्ष्य के विरूद्ध 75 प्रतिशत से अधिक फसली ऋण का वितरण हो चुका है। इसी प्रकार सवाई माधोपुर, बीकानेर एवं बूंदी जिलों में 60 प्रतिशत से अधिक तथा भीलवाड़ा, अजमेर, झुंझुनू व जोधपुर जिलों में 57 प्रतिशत से अधिक फसली ऋण का वितरण हुआ है। उन्होंने बताया कि भरतपुर, जैसलमेर, जालोर एवं बारां जिलों में ऋण वितरण की धीमी गति पर संबंधित प्रबंध निदेशकों को शीघ्रता लानें के निर्देश दिए गए है।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More