Rajasthan Update
Rajasthan Update - पढ़ें भारत और दुनिया के ताजा हिंदी समाचार, बॉलीवुड, मनोरंजन और खेल जगत के रोचक समाचार. ब्रेकिंग न्यूज़, वीडियो, ऑडियो और फ़ीचर ताज़ा ख़बरें. Read latest News in Hindi.

पानी की उपलब्धता एंव गुणवत्ता के आधार पर करें फसलों का चयन – गंभीर सिंह

रामकृष्ण जयदयाल डालमिया सेवा संस्थान, चिड़ावा

चिड़ावा, झुंझुनू (13 अक्टूबर) कार्यक्रम में मुख्य अतिथि गंभीर सिंह तहसीलदार, चिड़ावा ने किसानों को सम्बोधित करते हुए बताया कि संस्थान द्वारा जो भी नवाचारों, नवीन तकनीकियों, उन्नत बीजों कि किस्म, बीजोपचार की विधी, पानी की उपलब्धता और गुणवत्ता के आधार पर फसलों के चयन की प्रक्रिया आदि का प्रशिक्षण दिया जाता और बताया जाता है किसानों को उसी तरह से फसलों का चयन करते हुए कृषि करनी चाहिये ताकि उन्नत फसलों को अपनाकर कम खर्च में किसान की आय में इजाफा हो।
रामकृष्ण जयदयाल डालमिया सेवा संस्थान द्वारा रबी कृषि फसल आदान वितरण के दौरान चिड़ावा के जखोड़ा, श्री अमरपुरा, नारनौद एंव पदमपुरा के 794 किसानों को द्वारा रबी कृषि आदान वितरण एवं प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया।
विशिष्ट अतिथि खण्ड विकास अधिकारी रणसिंह चौधरी, चिड़ावा ने उपस्थित सभी किसानों को सम्बोधित करते हुए संस्थान द्वारा गांवों के विकास कार्यों की ओर उठाये जा रहे कदम की सराहना की और जो भी वर्षाजल संग्रहण, समन्वित कृषि परियोजना, बागवानी, महिला सशक्तिकरण, नशामुक्त समाज, पर्यावरण संरक्षण एवं स्वच्छता के क्षेत्र में विकास कार्य किये जा रहे है उसमें सभी ग्रामीणों की भागीदारी सुनिश्चिित करते हुए सभी को आगे आकर सहयोग करने के लिए कहा।
कार्यक्रम में संस्थान के परियोजना प्रबंधक ने किसानों को बताया कि जब भी कोई कृषि संबधी वस्तु कृय करे तो किसान उसका बिल अवश्य प्राप्त करें साथ ही बीमा करवाने का विशेष ध्यान रखे और भविष्य में होने वाले किसी भी नुकसान की स्थिति से बचने के लिए यह सुनिश्चिित करे कि गिरदावरी के समय भरी जाने वाली अपनी कागज कार्यवाही में सही जानकारी भरी गयी हो। किसान हमेशा प्रमाणित कम्पनीयों से ही प्रमाणित बीज ही खरीदे।
कार्यक्रम में संस्थान के कृषि पर्यवेक्षक अजय बलवदा ने किसानों को प्रशिक्षण देते हुए चना, सरसों, गेंहु, जौ रबी फसलों के उचित बीजदर बुवाई का सही समय बीजोपचार करने की विधि सिंचाई का समय खाद एवं उरर्वक के बारे में विस्तारपुर्वक बताया एवं फसलों में आने वाली बीमारीयों की रोकथाम के बारे में जानकारी दी। साथ ही उन्होनें कम पानी में अधिक पैदावार देने वाली उन्नत किस्मों के बारे में किसानों को जानकारी दी।
कार्यक्रम का संचालन करते हुए जल संसाधन एव ग्रामीण विकास समन्वयक संजय शर्मा ने वर्षाजल संग्रहण, स्वच्छता एंव पर्यावरण संरक्षण पर अपने विचार रखे।
इस अवसर पर संस्थान के पर्यवेक्षक सोमवीर लाम्बा, राकेश महला, रविन कुमार, बलवान सिंह और, सूरजभान रायला, नरेश आलडिया उपस्थित थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy