Rajasthan Update
Rajasthan Update - पढ़ें भारत और दुनिया के ताजा हिंदी समाचार, बॉलीवुड, मनोरंजन और खेल जगत के रोचक समाचार. ब्रेकिंग न्यूज़, वीडियो, ऑडियो और फ़ीचर ताज़ा ख़बरें. Read latest News in Hindi.

अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस पर सम्मान समारोह आयोजित

जेजूसर की रिया को 1 लाख रुपए और 8 विद्यालयों को 21 हजार रुपए की की प्रोत्साहन राशि

झुंझुनूं, (11 अक्टूबर) सोमवार को झुंझुनूं के सूचना केंद्र सभागार में महिला अधिकारिता विभाग और महिला एवं बाल विकास विभाग के तत्वावधान में अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया गया। इस मौके पर जेजूसर की रिया को सम्मान स्वरूप 1 लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि प्रदान की गई। महिला अधिकारिता विभाग के उपनिदेशक विप्लव न्यौला ने बताया कि जिले में बालिका शिक्षा के क्षेत्र में विशेष कार्य करने 8 विद्यालयों को भी ₹21000 के प्रोत्साहन राशि दी गई। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि झुंझुनूं उपखंड अधिकारी शैलेष खैरवा ने बालिका शिक्षा का महत्व बताते हुए नारी उत्थान के महत्व पर प्रकाश डाला। वहीं कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि जिला कोषाधिकारी दीपिका सोहू ने अपनी पुत्री की परवरिश के अनुभव साझा करते हुए कहा कि बेटियों को बस प्रोत्साहन की जरूरत है, वह कुछ भी हासिल कर सकती हैं। जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक अमर सिंह पचार ने शिक्षा विभाग द्वारा बालिका शिक्षा के क्षेत्र में किए जा रहे कार्यों की भी जानकारी दी। उन्होंने महिला अधिकारिता विभाग के उपनिदेशक विप्लव न्यौला और समस्त जिला प्रशासन को लिंगानुपात बढ़ाने के लिए भी बधाई दी। कार्यक्रम में समाजसेवी राजन चौधरी ने झुंझुनूं जिले की बाल लिंगानुपात में फर्श से अर्श तक की यात्रा का विस्तार से विवरण दिया तथा उन्होंने युवा पीढ़ी किस तरह तम्बाकू के गिरफ्त में आ रही और कैसे हम अपनी आने वाली पीढ़ी को तम्बाकू मुक्त बना सकते है बताया। वहीं महिला एवं बाल विकास विभाग के उपनिदेशक विजेंद्र सिंह राठौड़ ने धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि यह सभी के सम्मिलित प्रयासों का ही नतीजा है कि आज झुंझुनूं जिला लिंगानुपात में राज्य के अग्रणी जिलों में शामिल हुआ है। वहीं महिला एवं अधिकारिता विभाग के उपनिदेशक विप्लव न्यौला ने अपने उद्बोधन में कहा कि पीसीपीएनडीटी एक्ट के प्रभावी क्रियान्वयन और समाजसेवी राजन चौधरी एवं जिला प्रशासन की पूरी टीम के सहयोग से ही यह संभव हो पाया है। जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक मनोज ढाका ने कहा कि जिले में बेटा-बेटी का भेद समाप्ति की कगार पर है, नारी उत्थान के क्षेत्र में जिला प्रशासन के प्रयास सराहनीय है। कार्यक्रम में मलसीसर तहसीलदार बबीता को भी बालिका उत्थान के लिए सराहनीय कार्य करने पर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में महिला अधिकारिता विभाग के विभिन्न कर्मचारियों और महिला बाल विकास विभाग की विभिन्न आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को भी उत्कृष्ट कार्य करने पर सम्मानित किया गया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy