Rajasthan Update
Best News For rajasthan

हरियाणा विधानसभा चुनाव और वंशवाद बना सांसद पुत्र की टिकट के बीच रोड़ा

अंतिम समय पर भाजपा अलाक मान ने गैर भाजपाई झुंझुनूं प्रधान पर लगाया दाव

नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ एक बार फिर झुंझुनूं की राजनीति में उलटफेर करने में हुए सफल

झुंझुनूं। मंडावा विधानसभा उपचुनाव को लेकर रविवार को भाजपा ने टिकट में बड़ा फेरबदल करते हुए अंतिम समय पर झुंझुनूं सांसद नरेंद्र खीचड़ के पुत्र अतुल खीचड़ की टिकट काटकर गैर भाजपाई झुंझुनूं प्रधान सुशीला सीगड़ा का प्रत्याशी बनाया है।

राजनैतिक सूत्रों का कहना है कि सांसद पुत्र की टिकट कटने का मुख्य कारण हरियाणा विधानसभा चुनाव को माना जा रहा है। सूत्रों का कहना है कि हरियाणा में भाजपा ने बहुत से विधायकों के पुत्रों व परिजनों को टिकट नही देने का निर्णय लिया था, लेकिन राजस्थान के उपचुनाव में भाजपा सांसद पुत्र को टिकट देने की संभावना ने, हरियाणा विधानसभा चुनाव में एक मुद्दा बन गया और इन्ही कारणों को लेकर बताया जा रहा है कि अंतिम समय पर सांसद पुत्र की टिकट काटकर गैर भाजपाई को टिकट सौंपी गई है।

झुंझुनूं के एक वरिष्ठ राजनैतिक कार्यकर्ता का कहना है कि सांसद पुत्र की टिकट कटने का एक प्रमुख कारण है प्रतिपक्ष के उपनेता एवं चूरू विधायक राजेंद्र राठौड़ भी रहें है, जिन्होंने शेखावाटी क्षेत्र में अपना कद बढ़ाने के लिए अपने ही एक नये समर्थक को टिकट दिलवाई है। शेखावाटी अंचल में भाजपा के एकछत्र राजनेता बनने की महत्वकांक्षा के चलते राजेंद्र राठौड़ इस तरह का राजनैतिक प्रयोग 2015 के उपचुनाव में किया था, वैसा ही प्रयोग इस उप चुनाव में किया जा रहा है। यहीं नही गत विधानसभा चुनाव के समय भी टिकट दिलवाने व कटवाने में राठौड़ महत्वपूर्ण भूमिका निभाते रहे है।

झुंझुनूं जिले में कांग्रेस के जननेता शीशराम ओला की मृत्यु के बाद, क्षेत्र में एक जननेता की कमी को भरने के लिए राजेंद्र राठौड़ प्रयासरत है। भाजपा के ही एक वरिष्ठ कार्यकर्ता का कहना है कि राजेंद्र राठौड़, झुंझुनूं सांसद नरेंद्र खीचड़ सहित अन्य किसी भी जनप्रतिनिधि का शेखावाटी अंचल में राजनैतिक कद बढ़ते नही देखना चाहते है। उसी के तहत राजेंद्र राठौड़ स्थानीय जनप्रतिनिधियों का राजनैतिक कद घटाने के लिए ऐसी प्रयोग करते रहते है।

मंडावा से भाजपा की प्रत्याशी बनी झुंझुनूं प्रधान सुशीला सीगड़ा सदैव कांग्रेसी रही है, जिन्हें गत विधानसभा चुनाव में कांग्रेस से निष्काषित कर दिया गया था। रविवार को राजेंद्र राठौड़ के नेतृत्व में सीगड़ा व उनके सहयोगी प्यारेलाल ढूकिया को भाजपा की सदस्यता ग्रहण करवाई गई।

साथ ही भाजपा प्रत्याशी की सोमवार को नामांकन की तैयारी जैसी सांसद पुत्र के लिए की गई थी। उसी तैयारी को जैसा का तैसा रखकर कार्यकर्ताओं को प्रात: दस बजे मलसीसर पहुंचने के लिए निर्देशित किया गया है। इस नामाकंन रैली व सभा में भाजपा के केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी, अर्जुन मेघवाल, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया, प्रतिपक्ष नेता गुलाबचंद कटारिया, आरएलपी के हुनमान बेनीवाल सहित अनेक भाजपा के दिग्गज नेता शामिल होंगे।

इसी तरह कांग्रेस प्रत्याशी रीटा चौधरी द्वारा अपना नामांकन सोमवार प्रात: साठे 12 बजे दाखिल किया जाएगा। नामांकन से पूर्व विद्यार्थी भवन में एक कार्यकर्ता सभा का आयोजन होगा। नामांकन के बाद मलसीसर में भी कार्यकर्ताओं की बैठक की जाएंगी। इससे पहले कांग्रेस प्रत्याशी के पक्ष में मुख्यमंत्री व उपमुख्यमंत्री के आने की भी संभावना थी, लेकिन विशेष राजनैतिक कारणों से उनकी सभा अब पांच अक्टूबर को होने की संभावना है। इस प्रकार मंडावा उपचुनाव को लेकर भाजपा व कांग्रेस के अलावा करीब पांच अन्य प्रत्याशी भी अपना नामांकन दाखिल करेंगे।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More